व्यापार
Screenshot_20210217_133745

गाजियाबाद। तिलक राज अरोड़ा
(राष्ट्रीय सचिव कैट उत्तर भारत) GST से व्यपारियो को होने वाली समस्या को निरन्तर सोशल मीडिया पर पोस्ट करते रहे हैं आज उसी कड़ी में तिलक राज अरोड़ा ने कानून निर्माताओ के नाम एक खुला पत्र सोशल मीडिया पर पोस्ट लिया

मान्यवर कानून निर्माताओं

क्या आप समझते है कि व्यापारियों के पास अथाह समय होता है ?

आपका GST पोर्टल घंटों घंटो तक सही ढंग से नहीं चलता है। कई चीजें तो साधारण व्यापारी क्या बल्कि इसके जानकर लोगों को भी समझ नही आती है।

PicsArt_05-17-11.45.01
व्यापारी आपके नौकरशाहों की तरह 8 घंटे (बल्कि अधिकतम 4 घंटे) काम नहीं करता वरन 12-14 घंटे तक कार्य करता है। ना अपने स्वास्थ का ख्याल रख पाता है ना ही परिवार का। ऊपर से अपने सामाजिक, धार्मिक दायित्व का निर्वहन करने में भी अग्रणी भूमिका अदा करता है।
*हमने GST का स्वागत टैक्स के सरलीकरण के लिए किया था ना कि ऐसे जटिल क़ानून* के लिए।

‼️ जागो व्यापारी जागो ‼️

तिलक राज अरोड़ा

अब देखना ये है कि सरकार को इस पत्र की गूंज सुनाई देगी या नही!